भारत सरकार
Government of India
Government of India
रक्षा मंत्रालय
Ministry of Defence
रक्षा लेखा नियंत्रक (निधि) मेरठ
Controller of Defence Accounts (Funds) Meerut

सूचना का अधिकार

सूचना का अधिकार अधिनियम २००५
१. सूचना के अधिकार का अर्थ क्या है ?

इसमें :-
i
कार्यों, दस्तावेजों, अभिलेखों का निरीक्षण करने,
ii
दस्तावेजों अथवा अभिलेखों की अनुप्रमाणित प्रतियों के नोट, उद्धरण लेने,
iii
सामग्री के प्रमाणित नमूने लेने,
iv
प्रिंटआउट, डिस्क, फ्लापी, टेप, विडियोकैसेट , अथवा किसी अन्य इलैक्ट्रानिक मोड अथवा अथवा प्रिंटआउट के माध्यम से सूचना प्राप्त करने का अधिकार शामिल है।

2. सूचना का क्या अर्थ है ?

सूचना का अर्थ, अभिलेख, दस्तावेज़, ज्ञापन, इ-मेल, विचार, सलाह, प्रैस विज्ञप्तियां, परिपत्र, आदेश, लाँग बुक, संविदा, रिपोर्ट, पेपर, नमूने, मॉडल, किसी भी तरह के इलेक्ट्रॉनिक आंकडे व किसी भी निजी निकाय से सम्बंधित सूचना सहित जिसका किसी सरकारी प्राधिकारी द्वारा आंकलन किया जा सकता हो, किसी भी समय लागू किसी अन्य नियम के अंतर्गत किसी भी सामग्री से है ।

3. सूचना पाने के लिए आवेदन प्रक्रिया क्या है ?

आवेदन सादे कागज़ पर लिखित में, हिन्दी अथवा अंग्रेजी में अथवा इलैक्ट्रॉनिक माध्यम से केंद्रीय लोक सूचना अधिकारी को देना होगा। आवेदन में वांछित सूचना का विवरण देना होगा। आवेदन के साथ १०/- रूपये का शुल्क अदा करना होगा जिसे नकद अदा करके उचित रसीद ली जा सकती है। रक्षा लेखा महानियंत्रक नई दिल्ली के नाम देय चैक, डिमाण्ड ड्राफ्ट अथवा बैंकर्स चैक के माध्यम से दिया जा सकता है। जो आवेदक सूचना मांग रहा है उसे सूचना पाने के लिए कोई कारण नहीं बतानाहोगा और न ही उसे कोई अन्य व्यक्तिगत विवरण देना होगा सिवाय इस सूचना के जिस पर उससे संम्पर्क किया जा सके ।

4. शुल्क कितना है ?

i
धारा ६ की उप-धरा (१) के अंतगर्त सूचना प्राप्त करने के लिए आवेदन शुल्क १०/- रू० है
ii
धारा ७ की उप धारा (१) के अन्तर्गत सूचना देने के लिए निम्नलिखित शुल्क लिया जाना चाहिए।
प्रत्येक पृष्ठ के लिए बनाया गया कागज अथवा प्रतिलिपि किया गया ए ४ अथवा ए ३ आकार का कागज दो रूपए प्रति पृष्ठ ।
इससे बढे आकार के कागज के लिए प्रति का वास्तविक लागत मूल्य ।
नमूनों अथवा माडलों के लिए वास्तविक लागत अथवा कीमत, और
अभिलेखों के निरीक्षण के लिए, पहले घण्टे के लिए कोई शुल्क नहीं, तत्पश्चात प्रत्येक घण्टे (अथवा उसके किसी भाग) के लिए ५/- रू०/- प्रति घण्टे का शुल्क प्रभारित होगा।
iii
धारा ७ की उपधारा (५) के अंतर्गत सूचना के लिए निम्नलिखित दर पर शुल्क लिया जायेगा :
डिस्क अथवा फ्लापी में सूचना दिए जाने पर ५०/- रू० प्रति डिस्क अथवा फ्लापी ।
मुद्रित रूप में सूचना होने पर प्रकाशन की निर्धारित कीमत अथवा २/- रू० प्रति पृष्ठ फोटोकॉपी के
iv
गरीबी की रेखा से नीचे रहने वाले लोगों से कोई शुल्क नहीं लिया जायेगा, और
v
यदि केंद्रीय लोक सूचना अधिकारी निर्धारित समय सीमा में सूचना देने में असमर्थ रहता है तो आवेदक को सूचना मुफ्त दी जायेगी।

5. सूचना लेने की समय सीमा क्या है ?

i
आवेदन की तारीख से ३० दिन ।
ii
व्यक्ति के जीवन व स्वतंत्रता से संबंधित सूचना के लिए ४८ घण्टे।
iii
निर्धारित समय के भीतर सूचना देने में असफल रहने को मना करना समझा जायेगा


सूचना का अधिकार अधिनियम २००५ की धारा ४ (ख) (१६)

6. केन्द्रीय लोक सूचना अधिकारी का विवरण

श्री यू.एस.पी. कुशवाहा, भा.र.ले.से.
रक्षा लेखा संयुक्त नियंत्रक,
रक्षा लेखा नियंत्रक निधि का कार्यालय,
प्रधान डाकखाने के पास, मेरठ छावनी - २५०००१
दूरभाष - ०१२१ - २६४०१४५
फैक्स - ०१२१ - २६४७०२२
ई-मेल : सीडीएफण्ड़स.निक.इन
सूचना का अधिकार अधिनियम २००५ की धारा ४(ख) (१७)

7. अपीलीय प्राधिकारी का विवरण :-
श्री शरत शर्मा, भा.र.ले.से.
रक्षा लेखा नियंत्रक
कार्यालय रक्षा लेखा नियंत्रक (निधि), प्रधान डाकघर के पास
मेरठ छावनी - २५०००१
दूरभाष - ०१२१-२६४८७५४
फैक्स - ०१२१-२६४७०२२
ई-मेल : सीडीएफण्ड़स.निक.इन
सूचना का अधिकार अधिनियम २००५ की धारा ४(ख) (१)(२)(३)

8. संगठन व ढांचा -
रक्षा लेखा नियंत्रक (निधि), रक्षा सिविलियनों व र.ले.वि. के कार्मिकों की सा.भ.नि. में वित्तीय सलाहकार (रक्षा सेवाएं) व रक्षा लेखा महानियंत्रक की ओर से प्राधिकारी के रूप में कार्य करता है।


र.ले.नि. (निधि), संगठन का संचालन ०१ रक्षा लेखा अपर / संयुक्त नियंत्रक, ०३ वर्ग अधिकारियों, १२ वरिष्ठ लेखा अधिकारियों/लेखा अधिकारियों व ३२ सहायक लेखा अधिकारियों / अनुभाग अधिकारी (लेखा) की सहायता से करते है ।

मिशन :- लेखांकन व वित्तीय सेवाओं तथा लेखा परीक्षा कार्य निष्पादन में श्रेष्ठता व व्यावसायिकता प्राप्त करना ।

उददेश्य : यह सुनिश्चित करना कि : -
i
भविष्य निधि खातों का पूरा व सही रखरखाव और अभिदाताओं को समय पर लेखाओं का वार्षिक विवरण जारी करना।
ii
अग्रिम /आहरण के दावों का शीध्रता से भुगतान, जहां ऐसे दावे निधि अनुभाग / कार्यालय द्वारा किये जाने हैं ।
iii
अप्रभावी हो गए अभिदाताओं के दावों का शीघ्र निपटान ।
कर्त्तव्य और उत्तरदायित्व
र.ले.नि. (निधि) का निधि लेखाओं के संबंध में उत्तरदायित्व इस प्रकार है -
i
(३१.१२.२००३ तक नई भर्ती के मामलों में) अभिस्वीकृति फार्म / नामांकन फार्म प्राप्त होने पर सा.भ.नि. लेखा संख्या आवंटित करना ।
ii
निधि लेखाओं का वार्षिक विवरण सीसीओ-९ समय पर जारी करना ।
iii
उन अभिदाताओं को जो या तो प्रतिनियुक्ति पर हैं या दो वर्षो में रिटायर होने वाले हैं, के अंतिम आहरण या अस्थायी अग्रिम का भुगतान ।
iv
अप्रभावी होने वाले अभिदाताओं के दावों का अंतिम निपटान।
v
र.ले.वि. कार्मिकों के निधि खातों में असंगतियों को दूर करना ।
vi
निधि खातों का हस्तांतरण।
उक्त उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए र.ले.नि.(निधि) को
i
यूनिट/ विरचना
ii
डीडीपी नियंत्रक
iii
द्वारा सहायता प्रदान की जाती है
टिप्पणी - रक्षा लेखा विभाग के अधिकारी व कार्मिक सा.भ.नि. (रक्षा सेवा) नियम द्वारा अधिशासित हैं ।
डीडीपी प्रणाली में, निधि अनुसूचियों का संसाधन डीडीपी नियंत्रक करते हैं व शुद्ध आंकड़े ईमेल / वैन के माध्यम से ईडीपी केंन्द्र र.ले.नि. (निधि) मेरठ को भेजे जाते हैं .निधि अनुसूचियाँ, डीडीपी नियंत्रकों के पास रह जाती हैं. सा.भ.नि. (र.ले.वि.) की निधि अनुसूचियों का संसाधन पुराने तरीकें से ही किया जाता है
४. डीडीपी नियंत्रकों के कार्य
तीन तरह के कार्य हैं :

१)
वेतन लेखा परीक्षा (वेतन अनुभाग)
२)
निधि कक्ष
३)
ईडीपी कक्ष
वेतन अनुभाग -

i
यह सुनिश्चित करने के लिए कि अभिदान सही दर पर वसूला गया है, वेतन बिलों के हवाले से निधि अनुसूचियों की समीक्षा करना ।
ii
निधि अनुसूचियों की राशि को निधि कूट शीर्ष में संकलित करना
iii
(निधि) अनुसूचियों को निधि कक्ष को भेजना
iv
यह सुनिश्चित करना की निधि लेखा संख्या आंवटन के लिए यूनिट / विरचना से प्राप्त आवेदन हर प्रकार से पूर्ण हैं और विधिवत् सत्यापन के बाद र.ले. नियंत्रक (निधि) को भेज दिये गए हैं ।
v
दो साल के भीतर रिटायर होने वाले अभिदाताओं के अस्थाई अग्रिम / अंतिम निकासी के दावे र.ले.नि. (निधि) मेरठ को भेज दिए जाते हैं।
vi
रिटायर होने वाले अधिवर्षिता / सेवामुक्ति / मत्यु आदि मामलों के अभिदाताओं के अंतिम निपटान दावे भेजना ।
निधि कक्ष
डीडीपी नियंत्रक के अधीन निधि कक्ष की ज़िम्मेदारी इस प्रकार है-
i
निधि अनुसूचियों का मुद्रित सूची संकलन से मिलान
ii
यह सुनिश्चित करना की संकलित राशि के प्रति सभी निधि अनुसूचियां 'टॉप शीट' के साथ प्राप्त हुई हैं ।
iii
संकलित वास्तविक आंकड़े व अनुसूचियों की राशि का अनुसूची नियंत्रण रजिस्टर के माध्यम से मिलान करना ।
iv
अप्राप्त अनुसूची,यदि कोई हो, यूनिट से मंगाना ।
v
निधि-अनुसूचियों के बैच तैयार करना तथा डाटा एन्ट्री के लिए ईडीपी कक्ष को भेजना।
vi
ईडीपी कक्ष से प्राप्त निधि अनुसूचियों की एडिट सूची के साथ १००% हस्त्य जांच करना
vii
अशुद्धियों को यदि हों, सुधार के लिए कम्प्यूटर में फीड करना ।
viii
अशुद्धि सुधर की इस प्रक्रिया को शून्य अशुद्धि स्तर तक लाने के लिए बार-बार दोहराया जाना चाहिए ।
ix
निधि खातों की समीक्षा के दौरान कम्प्यूटर द्वारा दी गयी टिप्पणियों पर यूनिटों / विरचानाओं से पत्राकर करके स्पष्टीकरण / संशोधन प्राप्त करना ।
ईडीपी कक्ष (डीडीपी नियंत्रक के अधीन)
i
डाटा एण्ट्री के लिए माह की निधि अनुसूचियों के बैच तैयार करना ।
ii
डाटा एण्ट्री व सत्यापन
iii
एडिट लिस्टिंग तैयार करना और १००% चैकिंग के लिए निधि अनुसूचियों के साथ निधि कक्ष को देना ।
iv
निधि कक्ष द्वारा प्रस्तावित संशोधनों को डाटा में डाला जाए तथा प्रिंट आउट निधि कक्ष को दिया जाये।
v
प्रिंट आउट की शुद्धता के बारे में निधि कक्ष से पुष्टि हो जाने पर एडिट लिस्टिंग को अद्यतन करना।
vi
साफ रिकार्डों की मासिक टेप रखी जाए व अभिपुष्ट मासिक आंकड़ों को ईडीपी केन्द्र, मेरठ को अंतरित किया जाये।
vii
अस्वीकृत अभिलेख सुधार के लिए निधि कक्ष को भेजा जाये और बाद में स्वीकृत आंकड़ो में जोड़ा जाये।
व्यक्तिगत सा.भ.नि. खातों में अप्राप्त डेबिट का पता लगाने और समायोजन के लिए डीडीपी नियंत्रक की भूमिका
दस्तावेज़ - 
अपेक्षित दस्तावेज़ हैं :-
i
मासिक आर डी आर संकलन
ii
०/०१५/०१ को संकलित राशि से संबंधित डीवी की विस्तृत सूची
iii
अनुसूची नियंत्रण रजिस्टर
iv
बैच नियंत्रण रजिस्टर
उपाय -
i
वास्तविक संकलित आरडीआर संख्याओं की तुलना व्यक्तिगत खाते में वास्तविक खतौनी राशि से करना ।
ii
दोनों संख्याओं में अंतर का पता लगाना
iii
वाउचर की मासिक विस्तृत सूची की राशि की तुलना मार्च की अनुपूरक शुद्दियों के लिए ०/०१५/०१ का प्रयोग करके आरडीआर शीर्ष संख्याओं से करना । यदि कोई अंतर हो तो उसकी सूची बनाई जाए और उसकी छंटाई कर ली जाये।
iv
डीडीपी नियंत्रक के ईडीपी कक्ष से प्राप्त निधि लेखे के वाउचरों की विस्तृत सूची में दिखाए गए डी.वी. नम्बरों की तुलना अनुसूची नियत्रंण रजिस्टर में दर्ज डी.वी.नम्बरों से करना ।
v
उन डी.वी.की सूची बनायी जाए जिनके लिए नामे अनुसूची अपेक्षित है व उन्हें संबंधित वेतन लेखा परीक्षा कार्यालय से मंगवाया जाये । इस सूची में वे डेबिट दिखाये जायेंगे जो वेतन लेखापरीक्षा कार्यालय और निधि कक्ष के बीच गुम हो गए हों ।
vi
अनुसूची नियंत्रण रजिस्टर में दिखाई गई डेबिट अनुसूची राशि की तुलना ईडीपी केन्द्र र.ले.नि. (निधि) को मासिक आधार पर अंतरित वास्तविक आंकडों से की जाये व अप्राप्त डेबिट मामलो की सूची तैयार की जाये। यह उन डेबिटों को दर्शायेंगे जो निधि कक्ष व ईडीपी केन्द्र के बीच गुम हो गए हों ।
उक्त प्रक्रिया के आधार पर निम्नलिखित सूचना एकत्र की जायेगी :
a
वित्तीय वर्ष के दोरान ०/०१५/०१ में संकलित राशि,
b
अभिदाता के खाते में औसतन आधार पर खतौनी की नई राशि
c
क और ख (क-ख) के बीच अंतर
d
राशि जिसके लिए अनुसूची वांछित हैं (वेतन कार्यालय और निधि कक्ष के बीच अंतरण हानि)
e
समीक्षा अस्वीकृति में रखी राशि (निधि कक्ष व ईडीपी केंद्र के बीच अंतरण हानि)
f
ग = घ + ड़.
i
वेतन लेखापरीक्षा कार्यालय और निधि कक्ष के बीच अंतरण के दौरान गुम हुई, अपेक्षित अनुसूचियां, संबंधित वेतन लेखा परीक्षा कार्यालय से मंगवाई जाये ।
ii
अप्राप्त नामे राशि के संबंध में, यानी राशि जो समीक्षा अस्वीकृति सूची में रखी हुई है (निधि कक्ष और ईडीपी केन्द्र के बीच गुम) आवश्यक संशोधन व समायोजन भुगतान वाउचर के हवाले से अथवा अस्थायी अग्रिम / अंतिम निकासी रजिस्टर आदि से निधि कक्ष द्वारा की जायेगी ।
iii
सूचना युक्त यानी अपेक्षित अनुसूची अप्राप्त डेबिट के लिए किये गए समायोजन से संबंधित ब्यौरा अभिदाता के खाते में डेबिट दर्शाने के लिए ईडीपी केन्द्र को पास की जाए ।
iv
जब अप्रभावी सेवानिवृत्त / सेवामुक्त / मृत्यु आदि के कारण ईडीपी केंद्र व्यक्तिगत खातों में डेबिट अंतरित नहीं कर पाता तो डीडीपी नियंत्रक द्वारा एक सूची अलग से बनाई जायेगी, ताकि वह व्यक्तिगत तौर पर अभिदाता से या सक्षम प्राधिकारी के आदेशों से हानि के रूप में बट्टे खाते में डाल सकें ।

v
अपेक्षित अनुसूची / अप्राप्त डेबिटों के बारं में एक विशेष रिपोर्ट बनायी जायेगी और ऐसे मामलों को जहां अभिदाता का खाता अप्रभावी होने के कारण डेबिटों को अंतरित नहीं किया जा सकता, ईडीपी केन्द्र के साथ-साथ र.ले.नि. (निधि) के ईडीपी केंद्र को भेजे जायेंगे।
र.ले.नि. (निधि) मेरठ के ई.डी.पी. केन्द्र की भूमिका
i
डीडीपी नियंत्रक से मासिक आधार पर "अशुद्धि मुक्त डाटा" प्राप्त करना .
ii
डीडीपी नियंत्रक से प्राप्त डाटा को मिलाकर छमाही आधार पर "सुपर-रीव्यू" करना ।
"सुपर-रीव्यू" निम्नलिखित सुनिश्चित करने तक सीमित रहेगा :
i
एक ही महीने में विभिन्न डीडीपी नियंत्रकों द्वारा समान लेखा संख्या तो नहीं चलायीं जा रही है .
ii
एक ही नियंत्रक द्वारा डुप्लीकेट वेतनबिल तो नहीं बनाये गए ।
iii
संख्यात्मक क्षेत्रों में संख्यात्मक आंकडे ही हैं ।
iv
सुपर-रीव्यू के परिणामों को संशोधन के लिए डीडीपी नियंत्रकों को भेजना ।
सुपर-रीव्यू
i
पिछले वर्ष के मास्टर के आधार पर ब्राड-शीट मुद्रित करना ।
ii
सा.भ.नि. खाते की वार्षिक विविरणी (सीसीओ - ९) मुद्रित करना ।
iii
फरवरी महीनें की निधि अनुसूचियों के अभिदानों के आधार पर अभिदाताओं की यूनिट-वार नामावली तैयार करना ।
iv
ब्राड शीट तथा वार्षिक निधि विवरण आगामी आवश्यक कार्रवाई के लिए संबंधित अनुभागों को भेजना ।
v
सा.भ.नि. लेखा में जमा की कुल राशि व सा.भ.नि तथा निकासियों पर देय ब्याज का समेकित सारांश
vi
माइनर / माइनस शेषों का प्रिंट आउट ।
vii
लेखा-परीक्षा ग्रुपों द्वारा अपेक्षित कोई अन्य रिपोर्ट ।
viii
डी डी पी नियंत्रक वार ब्राड-शीट अलग करना तथा डाटा को सत्यापन व रिकार्ड के लिए डी डी पी नियंत्रकों को भेजना ।
नामांकन, अभिस्वीकृति व निधि लेखा संख्या आंबटन :-
i
अभिस्वीकृति,अभिदाताओं द्वारा संयुक्त "अभिस्वीकृति व नामांकन फार्म" के आधार पर की जाती है (फार्म सा.भ.नि. ३, सा.भ.नि. ३क, सा.भ.नि. ३ख या सा.भ.नि. ३ग)
ii
संयुक्त "अभिस्वीक्रति तथा नामांकन फार्म" कार्यालय अध्यक्ष द्वारा वेतन एवं लेखापरीक्षा अधिकारी के माध्यम से हर महीनें की १५ तारीख को प्रस्तुत किये जाते हैं। यह फार्म उन अभिदाताओं के होते हैं जिन्हें सा.भ.नि में अनिवार्य रूप से अभिदान करना होता है तथा ये 3 महीने पहले जमा कराए जाने चाहियें ।
iii
आवेदक जिस महीने में पात्र होता है उसमें आगामी माह की पहली तारीख से सभी अभिस्वीकृतियाँ प्रभावी होती हैं । यदि संयोग से वह तारीख स्वंय ही पहली तारीख पड़ती है तो उस मामले में उसे उसी तारीख से अभिस्वीकृत कर लिया जाता है ।
आंबटन
i
सा.भ.नि. लेखा संख्या र.ले.नि. (निधि) में अभिस्वीकृति ग्रुप द्वारा सेवाओं के प्रत्येक अंग के लिए निर्धारित ब्लाँक के हवाले से दी जाती हैं अर्थात् र.ले.वि. / गैर र.ले.वि. यानि आयुद्ध, ई.एम.ई. एम.ई.एस., ए.एस.सी. विविध आदि।
ii
आंबटित सा.भ.नि. लेखा संख्या यूनिट / विरचना और वेतन लेखा परीक्षा कार्यालय को सूचित की जाती है ।
iii
"अभिस्वीकृति रजिस्टर" में आवश्यक प्रविष्टियाँ की जाती हैं ।
iv
जब तक अभिदाताओं के निधि लेखे र.ले.नि. (निधि) द्वारा रखे जाते हैं तब तक आंबटित निधि लेखा परिवर्तित नहीं की जाती।
अभिस्वीकृति :-
i
भविष्यनिधि में प्रवेश के लिए अभिदाताओं द्वारा अपने आवेदन के साथ नामांकन फार्म भी भेजे जाते हैं।
ii
आमतौर पर नामांकन फार्म इस प्रकार हैं :-
० सा भ नि-३ : - जब अभिदाता का अपना परिवार हो और वह अपने परिवार के किसी एक सदस्य को नामित करना चाहता हैं।
० सा. भ. नि. -३ क: - जब अभिदाता का परिवार हो और वह अपने परिवार के एक से अधिक सदस्यों को नामित करना चाहता है ।
० सा.भ.नि -३ ख :- जब अभिदाता का कोई परिवार नहीं और वह एक से अधिक व्यक्तियों को नामित करना चाहता है ।
० सा. भ.नि. - ३ ग :- जब अभिदाता का परिवार न हो और वह किसी एक व्यक्ति को नामित करना चाहता है ।
iii
संयुक्त अभिस्वीकृति और नामांकन फार्म की दो प्रतियां जमा करना अनिवार्य हैं।
iv
नामांकन फार्म उस निधि के निपटान के लिए अनिवार्य होता है जो अभिदाता की मृत्यु होने के कारण उसके खाते में जमा हो ।
v
नामांकन फार्म गार्ड फाइलों में लेखा संख्या के क्रम में राजपत्रित अधिकारी की व्यक्तिगत अभिरक्षा में ताले में बंद कर रखे जाते है।
vi
नामांकन फर्मो की प्रत्यक्ष जांच संबंधित अधिकारी द्वारा ३ वर्षों में एक बार की जानी चाहिए ।

रक्षा लेखा नियंत्रक (निधि) का संगठनात्मक ढांचा
"मुख्यालय कार्यालय नई दिल्ली"
सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 की धारा 4 (ख) (v)

9. रक्षा लेखा विभाग के नियंत्रणाधीन अथवा उसके कर्मचारियों द्वारा अपने कर्तव्यों का निर्वाह करने में लाए जा रहे नियम, विनियम, अनुदेश, कार्यालय नियम पुस्तकें


क्रमांक

संकलन का नाम

श्रेणी

१.

कार्यालय नियम पुस्तक भाग - ५

नियम पुस्तक

 
 सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 की धारा 4(ख)(vi)
 
10. इसके अथवा इसके नियंत्रणाधीन रखे गए दस्तावेज


कार्यालय नियम पुस्तक भाग - २ खंड - १ के पैरा ६१ में हमारे विभाग द्वारा अथवा उसके नियंत्रणाधीन रखे जा रहे दस्तावेजों की विभिन्न श्रेणियों एवं उनकी अवधि से सम्बंधित विस्तृत विवरण दिया गया है ।

सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 की धारा 4(ख)(IX)



11. अधिकारियों की निर्देशिका -

नाम व पदनाम सर्व/श्री

कार्यालय की दूरभाष संख्या

विस्तार सं0

शरत शर्मा,नियंत्रक

0121 – 2648754

 

यूएसपी कुशावाह,संयुक्त नियंत्रक

0121 – 2640145

206

श्रीमती मिनी श्री बिष्ट,उप नियंत्रक

0121 – 2644695

254

श्री जी.एस.बेदी,सहा.नियंत्रक

0121 – 2647023

208

ए.के.सेठी,सहा.नियंत्रक

0121 – 2644695

252

वी0के0सेठ,सहा.नियंत्रक

0121 – 2647023

249

एन.सी.अग्रवाल वरि.लेखा.अधि.(ईडीपी)

0121 – 2644695

255

आईएसवर्मा,वरि.ले.अधि.(ईडीपी)

0121 - 2647023

214

अमरीक सिहं,वरि.ले.अधि.(एमईएस)

0121 – 2647023

221

राकेश कुमार वरि.लेखा अधि.(एमएसएलटी स्कंध)

0121 – 2647023

234

बरूण दत्ता,लेखा अधि.(लेखा,एमएमएवं नोमिनेशन)

0121 – 2647023

214

सुश्री कुसुम सचदेवा,लेखा अधि.(आर्ड)

0121 – 2647023

234

श्रीमती प्रेमलता दीवान,वरि.लेखा अधि.(एमईएसएवं एफआर)

0121 – 2647023

261

श्री एल.एन गुलाटी,वरि.लेखा अधि.(टीडीई.ईएमई,एफ एन)

0121 – 2647023

234

आर.सी.पंवार,लेखा अधि.(एम.ई.एस.)

0121 – 2647023

263

ए.के.कक्कड लेखा अधि.ईडीपी

0121 – 2644695

255


सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 की धारा 4(ख)(XI)



13. रक्षा लेखा विभाग को आवंटित बजट



रक्षा लेखा महानियंत्रक की वेबसाइट


14. डीडीपी नियंत्रको में केन्द्रीय सार्वजनिक सूचना अधिकारियों की सूची

रक्षा लेखा महानियंत्रक की वेबसाइट

 

 

 




   
 













 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

बैक



Home
I Profile Introduction I Subscribers I Guidelines I Downloads I Photo Gallery I FAQ's I Feedback/Complaint I Contact I Useful Links